Bitctravel

Hi

दक्षिण अफ्रीका के एक टापू पर शाम के समय जेल में सभी कैदी अपनी अपनी बैरक में जा रहे थे। सूरज पश्चिम की ओर धीरे-धीरे ढल रहा था ऐसा लग रहा था जैसे समुद्र में समा रहा हो ठीक उसी क्षण जेल के अंदर पिछले 27 साल से सजा काट रहे मंडेला पर हमले की योजना बन चुकी थी। नेल्सन अपनी दीवार पर लगे कैलेंडर में तारीख देख रहा था आज 23 जुलाई 1989 थी।

मंडे सरकार के लिए गले की फांस बन गए थे उन को मारने के लिए चार हत्यारे जेल में भेजे गए थे जिनके पास आधुनिक हथियार थे और जैसा की जेल परिसर में अंदर पूरी योजनाबद्ध तरीके से अन्य सभी कैदियों को अलग कर दिया गया था और मंडेला को अलग बैरक में रखा गया था उसे अन्य लोगों के साथ पिछले 1 महीने से नहीं रखा जा रहा था क्योंकि वहां पर अन्य लोग इसके विरोध में थे सरकार का मानना था कि यदि यह बाहर निकल गया तो बहुत ही परेशानी खड़ी कर सकता है यह अकेला व्यक्ति तख्तापलट करने में सक्षम है विचारों हत्यारे जिन्होंने काले कपड़े पहने हुए थे और जिनके मुंह ढके हुए थे वह लंबी-लंबी बंदूक लेकर धीरे-धीरे पतले गलियारों से होते हुए मंडेला की बैरक की ओर बढ़ रहे थे उन्हें निपुण के निर्देश के अनुसार उनके निर्देश के अनुसार उन्हें अपना काम जल्दी खत्म कर करना था वे धीरे-धीरे आगे बढ़े मंडेला की नेल्सन की बैरक के आगे पहुंचकर उन्होंने उस तरफ बंदूकें तान दी और अभी बस यह गोली चलाने ही वाले थे कि अचानक उनके पीछे एक्टिव रोशनी हुई जिनसे उनका ध्यान भंग हो गया और उसमें से दो हट्टी कट्टी जवान बाहर निकले उन्होंने आते ही सबसे पहले एक के सर पर किसी चीज से वार किया जिससे वह गिर पड़ा और दूसरे के मुंह पर एक जोरदार घुसा मार दिया तीसरा व्यक्ति जो थोड़ा सतर्क था अचानक उसके पेट में चाकू आकर लगा और चौथा अभी कुछ सोच ही बताया बंधु कुमारी पाता तब तक उसकी गर्दन किसी ने तोड़ दी थी यह दो-तीन को चोट लगी थी जैसे ही यह खड़े हुए अचानक इनके इनका भी काम तमाम कर दिया गया यह बड़े आश्चर्य की बात थी नेल्सन की आंखें खुली रह गई और अचानक कि वह दोनों गायब हो गए

अभिनंदन कुछ समझ नहीं पा रहा था नेल्सन कुछ समझ नहीं पा रहा था थोड़ी देर पहले उसके सामने साक्षात मौत खड़ी थी और उसके कुछ ही क्षणों बाद दो फरिश्ते उसकी जान बचाने के लिए आग है हालांकि जब उन हत्यारों ने नेल्सन की और बंदूक तान दी थी उसने ईश्वर को याद कर लिया था पर इन सब के कारण यह क्या यह क्या हुआ और वह लोग कहां से आए थे और कहां गायब हो गए इसके बारे में कुछ समझ नहीं आया थोड़ी देर बाद वहां पर गार्ड्स आए और उन चारों की लाश उठाकर ले गए उन लोगों ने एक बार ननशन की तरफ देखा और फिर कुछ नहीं कहा

(2) 5 जुलाई 2036 भविष्य में आगे, अचानक सुबह अलार्म बजता है और जॉन की आंख खुलती है वह देखता है कि उसके बेड पर वेक का साइन आ रहा है। इसका मतलब है कि उसे उठ जाना चाहिए सुबह 6:00 बजे उसकी शिफ्ट शुरू होती है,
एक मेडिकल फैसिलिटी में काम करता है। कल इंडिपेंडेंस डे था इसलिए जॉन और उसके दोस्त जाफरी रात को पार्टी की थी। वह लगभग रात को 2:00 बजे तक जागते रहे। पहले तो जॉन ने सोचा की छुट्टी मार लेगा पर उसे याद आया कि उसके डिपार्टमेंट में पहले से ही दो लोग छुट्टी पर हैं। जॉन एक जिम्मेदार सुपरवाइजर है वह अपने सबोर्डिनेट्स का अच्छे से ध्यान रखना है इसीलिए यदि किसी को कुछ कमी होती है, तो जॉन उसे पूरा करता है। इसलिए उसने छुट्टी न करने का मन बनाया और सुबह 05:15 का अलार्म लगाकर सो गया ।

उसे तीन घंटे में नींद पूरी करनी थी इसलिए वह अपने बेड पर डीप ड्रीम मोड को एक्टिव करके सो गया। भविष्य में इस तरह के बिस्तर होंगे जिनसे मैग्नेटिक ब्रेन वेव्स निकलेगी जो सोने वाले व्यक्ति को उसकी जरूरत के अनुसार नींद पूरी कराएंगी, या उसे मनचाहे सपने दिखाएं जायेंगे।

जब वह व्यक्ति सोयेगा तो अपने मन चाहे सपनों को देखकर जागेगा और फ्रेश भी फील करेगा। इसी तरह जॉन ने अपने बेड को डीप स्लीप पर एक्टिव किया हुआ था वह 3 घंटे ही सो पाया था। उठने के बाद उसने अपने बेड कवर बेड की स्क्रीन पर अपना हेल्थ स्टेटस चेक किया जिसमें लिखा हुआ था नॉट गुड। उसने सिरहाने पर लगे अपने बेड के बटन को सेट किया और आरामदेह बिस्तर को छोड़कर उठ गया।
वह उठ कर बाथरूम की ओर चलने लगा, वह बाथरूम में पहुंचने ही वाला था कि अचानक एक आवाज आई जिसने जॉन को गुड मॉर्निंग कहा। यह आवाज इस घर की थी जिसका नाम कुविंसी था वह इन दोनों की जरूरत का पूरा ध्यान रखती है। वह इस तरह से डिजाइन है कि उनके लिए भोजन भी बन सकती है। कुविंसी दिखाई नहीं देती पर इस पूरे घर की केयरटेकर है। जॉन ने ऊपर की तरफ देखते हुए गुड मॉर्निंग में जवाब दिया।
कुविंसी ने कहा जॉन आपकी मेंटली रेटिंग तो ठीक है पर आप फिजिकल थके हुए लग रहे हैं, आपको आराम करना चाहिए।
जॉन ने नींद जैसी स्थिति में अपना हाथ उठाकर ऑल राइट बोला और बाथरूम की ओर बढ़ गया। कुविंसी को जाफरी ने डेवलप किया है जॉन और जाफरी दोनों एक ही अपार्टमेंट में रहते हैं और रूममेट हैं। जॉन एक अनाथ है तो वह अनाथआश्रम में पाला पड़ा जबकि जाफरी एक मध्यम वर्गीय अफ्रीकी अमेरिकी मूल का व्यक्ति है। उसका परिवार काफी बड़ा है वह यहां न्यूयॉर्क पुलिस डिपार्टमेंट में काम करता है।

बाथरूम से लौटने के बाद जॉन अपने हाल में चहल कदमी करते हुए जाफरी के रूम तक पहुंचा जहां उसने देखा की जाफरी के बेड पर लूसीड ड्रीम लिखा हुआ है। लूसीड ड्रीम का मतलब होता है मन चाहे सपने देखना। जॉन लूसीड ड्रीम लिखा हुआ देखकर बड़बड़ाने लगा और बोला “लड़कियों के ही सपने देख रहा होगा ठरकी साला” ऐसा कहकर वह जाफरी के बेड की तरफ बड़ा पर कुविंसी के उसे रोकते हुए कहा अभी किंग जेजे अपने सपनो में हैं। और उन्होंने कहा है की उनके सपने बड़े है जिसे वह देर तक सोकर पूरा करना चाहते हैं। जॉन सुनकर मुस्कुराया और उसके रूम से बहार निकलते हुए बोला आज तुम उसे किंग जे जे क्यों कह रही हो?
कुविंसी: कल रात ही इन्होंने मुझे खुद को किंग जे जे कहने के लिए सेट किया है।
जॉन ने पूछा किंग जे जे क्यों?
कुविंसी ने जवाब दिया क्योंकी उनका जन्म आजादी के अगले दिन हुआ था वह आज़ाद अमरीका में पैदा हुए हैं। और वो अपने परिवार में बादशाह की तरह रहते हैं?
जॉन: तुम उसकी कुछ जयादा बात नहीं मानती हो
कुविंसी: हां क्युकी वो मेरे क्रिएटर है।
जॉन बोला साला नशेड़ी रोज-रोज नए-नए नाटक करता है देश को आजाद हुए 260 साल हो गए और यह नए-नए राजा बने हैं दो दिन बाद फिर औकात पर आ जाएंगे ऐसा बोलकर वह आगे की ओर बढ़ गया

कुणसी: ने कहां आपको हल्का-फुल्का नाश्ता कर लेना चाहिए क्योंकि रात के समय आप लोगों ने भोजन नहीं किया था। केवल शराब पी है ऐसी स्थिति में भोजन करना स्वास्थ्य के लिए अच्छा होगा मैं कुछ ओट्स आपके लिए बना कर देता हूं।

कल रात 4 मई 2036 थी देश आजाद हुए 260 साल हो चुके हैं। इसीलिए जॉन और जाफरी दोनों देर रात तक पार्टी करते रहे। आज जाफरी का जन्मदिन भी है दोपहर में उसे अपने स्टाफ के साथ पार्टी रखी है जिसमें जॉन भी आमंत्रित है इस पार्टी के लिए पुलिस स्टेशन जाना होगा जिसके क्लब हाउस में पार्टी रखी गई है।
जॉन अपनी अलमारी की ओर बढ़ा और कपड़े निकालते हुए बोला “क्या तुम बता सकती हो कि 3 दिन पहले तुम उसे स्टुपिड कहकर क्यों बुला रही थी?”

कुविंसी : उन्होंने मुझे इंस्ट्रक्शन दिए थे कि जब तक मैं सही पासवर्ड ना बोलूं और अपना नाम एडवर्ड ना बताऊं तब तक दरवाजा मत खोलना।
शायद रात को वह अपना नाम भूल गए थे इसलिए उन्होंने मुझे रीसेट करते समय खुद को स्टुपिड बोला और कहा मेरा नया नाम स्टुपिड सेव कर लो मैंने ऐसा ही किया ।
जॉन : मैं समझा नहीं पूरी घटना बताओ
कुविंसी : सुबह उन्होंने मुझे कहा कि उनका नाम एडवर्ड है और उनका पासवर्ड पासवर्ड है जब मैं यह बोलूं कि मैं एडवर्ड हूं और मेरा पासवर्ड है पासवर्ड तभी तुम दरवाजा खोलना रात को उन्होंने एक शराब ज्यादा पी रखी थी।
जाफरी दरवाजे पर पंहुचा तो उन्होंने कहा “मैं एडवर्ड हूं और मेरा पासवर्ड एडवर्ड है”
कुविंसी ने दरवाजा नहीं खोला
कुविंसी : यू आर रॉन्ग फिर उन्होंने कहा मैं मैं हूं और मेरा पासवर्ड मैप वर्ल्डहै
कुविंसी : यू आर रॉंग
जाफरी : मैं चार्ली चैपलिन हूं और मेरा नाम मेरा पासवर्ड चार्ली है
कुविंसी : रॉन्ग नंबर है
उसके बाद वह काफी परेशान हुए और उन्होंने अपने सर पर हाथ मारते हुए का “रीसेट” और फिर बोले “मैं ही स्टुपिड हूं” मैंने कहा वौइस् कमांड कन्फर्म ठीक है स्टुपिड सर आप अंदर आ सकते हैं

ऐसा सुनकर जॉन जोर से हंसने लगा और मजाकिया अंदाज में बोला “हां सारे एसबीआई की इंपॉर्टेंट फाइल और डाटा तुम्हारे पास ही तो है खुद को अलीबाबा और तुमको सिम सिम समझता है। रोज रात को आएगा और बोलेगा खुल जा सिम सिम” कुन्सी और जॉन दोनों हंसने लगे कुन्सी ऐ आई है जो सामने वाले के एक्सप्रेशन को समझकर वैसे ही रिएक्ट करती है। जब जॉन हंस रहा था तो उसके एक्सप्रेशन को देखकर कुंजी ने भी हंसी की आवाज निकाली। इस दौर में फिजिकल क्राइम काफी कम हो गए हैं अब साइबर क्राइम ज्यादा होते हैं इसलिए ज्यादातर पुलिस वाले साइबर क्राइम में ही होते हैं। जैफ्री भी साइबर क्राइम डिपार्टमेंट में ही काम करता है।
थोड़ी देर में जॉन अपनी डाइनिंग टेबल की ओर थोड़ी देर में जॉन में कपड़े पहन लिए और अपनी डाइनिंग टेबल की ओर बढ़ गया। थोड़ी देर में निर्धारित टाइम पर कैब पहुंच गई। यह एक इलेक्ट्रिक कब है जिसका मार्ग निर्धारित होता है। वह अपने ग्राहकों को लेकर इस रूट पर जाती है जिसके लिए वह डिजाइन है और आज जॉन अकेला है क्योंकि एक व्यक्ति इस के डिपार्टमेंट से छुट्टी पर है जो उसके साथ सुबह जाने वाला था। यह इलेक्ट्रिक टेक्नोलॉजी काफी बेहतर है क्योंकि इसमें ड्राइवर का खर्चा बचता है और रूट भी निश्चित रहता है। ड्राइवर अपने अनुसार इधर-उधर जा सकता है पर यह कार अपने निर्धारित रूट पर ही जाती है। जॉन गाड़ी में बैठा गाड़ी मेडिकल फैसिलिटी की ओर बढ़ गई।

(3) रास्ते में जाते समय जॉन अपने पुराने मरीज के बारे में सोच रहा था क्योंकि कल ही एक मरीज जिसकी वह देखभाल कर रहा था वह स्वस्थ होकर अपने घर चला गया था और जाने से पहले उसने जॉन को जॉन की सर्विस के लिए 4 स्टार दिए। जॉन सोच रहा था कि जो भी अगला मरीज जिसका वह अटेंडेंस बनेगा उसकी बहुत अच्छी तरह सेवा करेगा और उसे खुश रखेगा ताकि वह उसे फाइवस्टार देकर जाए।

जॉन एक ऐसे हॉस्पिटल में है जो लगभग आधा ओल्ड एज होम की तरह है जहां पर केवल बुजुर्ग लोग ही आते हैं यह एक स्पेशियलिटी होम है जहां वीआईपी लोग जिन्होंने कभी अमेरिकन गवर्नमेंट को सर्व क्या होता है उनके लिए यह विशेष फैसिलिटी हॉस्पिटल है जॉन अपनी कार में बैठकर यह बातें सोच रहा था और साथ ही साथ अपने स्क्रीन पर रास्ते को देख रहा था जो उसके ऑटोमेटिक गाड़ी में सामने लगा हुआ था थोड़ी देर में गाड़ी हॉस्पिटल पहुंचती है और जॉन उतर कर अपने बोर्ड की ओर बढ़ जाता है

लगभग 10:00 बजे के आसपास एक नए बुजुर्ग को शिफ्ट किया जाता है जिनका नाम एडम था। एडम को एक व्यक्ति हॉस्पिटल में एडमिट करने के लिए लाया होता है वह जॉन को मिलते ही उसकी तरफ मुस्कुरा कर देखते हैं जॉन को अच्छा लगा क्योंकि ज्यादातर बुजुर्ग इस तरह से मुस्कुरा कर नहीं देखते हैं वह अपनी लाइफ से बहुत ज्यादा निराश होते हैं क्योंकि यहां ज्यादातर वही लोग आते थे जो अपने फैमिली के साथ नहीं रहते हैं।

थोड़ी देर बाद फॉर्मेलिटी पूरी करने के बाद जॉन एडम के कमरे में पहुंचा और उनसे बोला सर मेरा नाम जॉन है और मैं आपका अटेंड है सुबह 6:00 बजे से लेकर और 2:00 बजे तक मैं आपके साथ ही रहूंगा किसी भी चीज की जरूरत हो तो आप मुझे बता सकते हैं। एडम ने जवाब दिया तुम्हें देख कर अच्छा लगा । जॉन ने कहा क्या आप मुझे जानते हैं जो इस तरह से फ्रेंडली बात कर रहे हैं एडम बोला नहीं हम तो पहली बार मिल रहे हैं जॉन ने कहा आपको मेरे रहते किसी भी तरह के यहां तकलीफ नहीं होगी ऐसा कहकर जॉन ने सारे लगी हुई मीटर को चेक किया और फिर बोला कि आपको शायद कल अस्थमा का अटैक आया था

तब एडम बोला कि हां मुझे थोड़ी सी खांसी हो गई थी और यह लोग हॉस्पिटल में ले आए। ऐसा कहकर दोनों हंसने लगे थोड़े समय में जॉन मैडम के साथ घुल मिल गया। क्योंकि उसका काम ही था आने वाले बुजुर्ग लोगों की देखभाल करना और उनसे दोस्ती बढ़ाना ताकि उनको खुश रखा जा सके।

जॉन ने पूछा आप क्या करते हैं फिर बोला माफ कीजिएगा आप तो रिटायर हो चुके होंगे मतलब पहले क्या करते थे क्योंकि इस हॉस्पिटल में आने वाला हर कोई व्यक्ति कहीं ना कहीं गवर्नमेंट एंप्लाइज जरूर रहा होता है उसने अमेरिकन गवर्नमेंट को सर्व किया होता है तो कुछ ना कुछ तो स्पेशल आपने जरूर किया होगा।?

एडम ने कहा हां मैंने लोगों को इकोनामी पढ़ाई है जॉन ने कहा आप इकोनामी के प्रोफ़ेसर थे क्या एडम बोला हां तभी अचानक जॉन के फोन में एक रिमाइंडर आया जॉनी अपना फोन निकाल कर पड़ा तो उसे पता चला और उसका चेहरा मैसेज पढ़ने पर खुशी से भर गया। उसने एडम की तरफ देखते हुए कहा मैंने अभी कुछ दिन पहले थोड़ा सा पैसा क्रिप्टो करेंसी में निवेश किया था और वह 1 महीने में तकरीबन 5% तक बढ़ गया है।

एडम ने कहा कि तो बहुत अच्छी बात है तुम क्रिप्टोकरंसी में निवेश करते हो मतलब बिटकॉइन में डाले थे क्या।? एडम ने कहा हां नहीं मैंने इस समय बिटकॉइन $1000000 है मेरी इतनी औकात नहीं कि मैं उस में डाल सकूं जहां कुछ छोटी नई क्रिप्टोकरंसी है जिसमें मैंने निवेश किया है। हालांकि मेरा रूममेट जाफरी इसको अच्छा नहीं मानता उसका मानना है कि बिटकॉइन ब्रेक हो जाएगा। इसलिए हमें गवर्नमेंट की डिजिटल असेट्स ही खरीदने और बेचने चाहिए। पर बिटकॉइन तो सभी क्रिप्टो करेंसी का बाप है और बाप बाप होता है कोई क्रिप्टोकरंसी कैसे बिटकॉइन को कैसे ब्रेक कर सकता है।?

तभी एडम बोला हां ब्रेक हो सकता है सामान्य कंप्यूटर से नहीं क्वांटम कंप्यूटर लेकिन उसकी कोई जरूरत नहीं है तुरंत जॉन ने उसे रोकते हुए कहा आप यह बात कैसे कह सकते हैं एडम बोला क्योंकि मैं इकोनॉमिक्स का प्रोसेसर होता है

एडम ने कहा बिटकॉइन को समझने के लिए तुम्हें सबसे पहले करंसी को समझना होगा करंसी क्यों आई और की क्या जरूरत थी। मैडम ने जॉन की तरफ इशारा करते हुए पूछना क्या तुम जानना चाहोगे ? जॉन ने सहमति से अपना सर हिला दिया

एडम ने कहा पहले बार्टर सिस्टम चला करता था शायद तुम बार्टर सिस्टम को जानते हो?
जॉन ने कहा मैंने इसके बारे में थोड़ा बहुत पढ़ा है लेकिन मुझे एग्जैक्ट पता नहीं है। बार्टर सिस्टम होता क्या है पर मुझे थोड़ा-थोड़ा याद है कि यह इकोनामी का कोई सब्जेक्ट का चैप्टर है। एडम ने उसे जवाब दिया कोई बात नहीं मैं बताता हूं। सबसे पहले जब लोगों ने वस्तु विनिमय शुरू किया तो बहुत अच्छा था जो मक्का होता था वह मक्का के बदले चावल लेकर जाता था या उस चावल के बदले मैं अपनी जरूरत की अन्य चीजें ले लिया करता था जो लोहे का काम करता था लोग उसको जो उनके पास होता था जैसे कोई कपड़ा दे जाता था कोई गेहूं दे जाता था कोई मक्का दे जाता था कोई और कुछ दे जाता था इस तरह से पूरी इकोनामी रन करती थी।

लेकिन समस्या ने तब जन्म लिया जब एक व्यक्ति को जिसके पास केवल एक गाय थी उसको थोड़े से चावल चाहिए थे अब उस थोड़े से चावल के बदले गाय काट कर तो दी नहीं जा सकती थी। तब इस समस्या का समाधान निकाला गया धातु के जरिए। सोना पहली धातु थी जिसकी कीमत स्थिर थी लोग थोड़े से सोने के बदले में अपना काम करने लगे सोना एक तरह की करंसी बन गया था। इस तरह से सोना बाजार में घूमने लगा परंतु वह धीरे-धीरे एक हाथ से दूसरे हाथ जाने पर घिसने लगा।

और उसके बाद जन्म हुआ फिएट करेंसी का जो एक बहुत बड़े या ऐसा कहो कि दुनिया के पहले इस स्कैम का का कारण बनी जॉन ने बात को काटते हुए कहा पहले स्कैम एडम ने कहा हां पहला स्कैम

जॉन बोला इंटरेस्टिंग बात है प्लीज बताएं कैसे हुआ था: एडम ने कहा यह स्टोरी हड़प्पा संस्कृति की है नगर में एक श्री नाम का व्यक्ति रहता था। वह काफी धनवान था उसने किला बनाया जिसके अंदर जिसके बाहर कुछ गार्ड खड़े किए यह किला और गार्ड उसने अपना सोना सुरक्षित रखने के लिए बनाए थे। उसने लोगों के सामने एक स्कीम रखी जिसमें लोग अपना सोना उसके बैंक में जमा कर सकते थे जिसमें सोना निकालने और जमा कर दे पर थोड़ा सा सोना श्री को मिल जाया करता था। उसके बदले में श्री उन्हें एक सर्टिफिकेट बना कर उसपर स्टाम्प लगा देता था। जो एक तरह का फिएट करंसी थी एक तरह का शपथ पत्र था जिस पर लिखा होता था यह सर्टिफिकेट दिखने पर 100 ग्राम सोना दे दिया जायेगा। जो भी व्यक्ति है रिसिप्ट दिखाएगा है सोना ले जाएगा।

यह सोना उसी को मिलेगा जो यह रिसिप्ट मुझे दिखाएगा ऐसा कहकर उसने वो रिसेप्ट हर उस व्यक्ति को दी जिसने सोना जमा किया। कुछ समय बाद उसने देखा कि लोग उसकी रिसिप्ट को इधर उधर देकर सामान खरीद रहे हैं वह उसके पास सोना लेने आ ही नहीं रहे इससे उसके कारोबार पर बड़ा झटका लगा क्योंकि जब कोई सोना निकालेगा और डालेगा तभी उस पर उसे टैक्स मिलता था। अब उसने एक योजना बनाई उस योजना में उसने एक व्यक्ति से कहा कि यदि तुम मुझे 10 ग्राम सोना दे दो तो उसके बदले मैं तुम्हें 100 ग्राम के शपथ पत्र दूंगा जिसे तुम मार्केट में चला सकते हो और जब तक मैं रहूंगा तब तक कोई भी लेकर आएगा तो वह शपथ पत्र असली कहलाएगा

वह आदमी उसकी इस स्कीम को मान गया और उसने 10 ग्राम सोने के बदले में 100 ग्राम के शपथ पत्र ले लिए। उसके लिए यह सौदा बुरा नहीं था धीरे-धीरे 90% लोगों के पास इसी तरह के शपथ पत्र थे क्योंकि हर एक शपथ पत्र असली था। इसलिए किसी भी तरह का कोई शक नहीं था थोड़े समय बाद श्री की मौत हो गई और लोग शपथ पत्र लेकर आए अपना सोना वापस लेने के लिए शुरू के जो 10% लोग थे उनको तो सोना मिल गया लेकिन बाकी के 90% लोगों को सोना नहीं मिला क्योंकि सोना उनके भंडार गृह या उसके बैंक में नहीं था।

अचानक से जॉन ने कहा ओ माय गॉड तो क्या यह सचमुच हुआ था। तब एडम ने कहा नहीं यह सिर्फ एक कहानी है पर यह कहानी यह बताती है कि पहला स्कैम कैसे हुआ होगा जॉन ने कहा हमारे साथ बैंक भी तो इसी तरह का स्कैम करते हैं। तब एडम ने कहा नहीं बैंक स्कैम नहीं करते बल्कि वह इकोनामी को चलाने में मदद करते हैं। किसी भी देश में बैंक सरकारों के अंडर में आते हैं सरकार द्वारा उन पर मॉनिटरिंग की जाती है जिसकी वजह से निवेशकों का भरोसा हमेशा बैंक में बना रहता है।

जॉन ने अपनी बात आगे बढ़ाते हुए कहा “अब मैं आपसे एक क्वेश्चन पूछता हूं।”

जॉन एक बैंक जिसका नाम ओ बैंक है उसमे 100000$ ले जाकर जमा करता है
विक्टर वहां पर जाता है और ₹90000 का लोन ले लेता है
वह लोन से एक कार खरीदता है और कार वाला व्यक्ति जिसका नाम लियुक है वह ₹90000 ले जाकर फिर से बैंक में जमा कर देता है
एक तीसरा व्यक्ति वहां आता है और या जिसका नाम जैक है वह ₹80000 का लोन लेता है और वह भी एक मकान खरीदना है जिससे उसने खरीदा है उसका नाम रॉजर है
अब रॉजर उसी ओ बैंक में ₹80000 जमा कर देता है।
अब मुझे एक बात बताइए जब जॉन पता करेगा तो उसके बैंक में ₹100000 होंगे जब लियुक पता करेगा तो ₹90000 होंगे और जब रॉजर पता करेगा तो ₹80000 होंगे टोटल बैंक के पास ₹270000 होने चाहिए पर वास्तव में बैंक के पास ₹100000 हैं

एडम बोला तुम ठीक कह रहे हो यह सिस्टम ठीक तो नहीं है क्योंकि कोई भी सिस्टम परफेक्ट नहीं हो सकता पर इस सिस्टम को गवर्नमेंट का पूरा सपोर्ट रहता है जिसके कारण यह कभी कोई कोलेप्स नहीं होता और इस पर लोगों का ट्रस्ट बना हुआ है।
इसीलिए बहुत सारे देश अपनी डिजिटल करेंसी भी लाए हैं लेकिन क्रिप्टोकरंसी एक कोड है जो आने वाले टाइम में और ज्यादा स्ट्रांग होता चला जाएगा पर आज की डेट में साइबर दुनिया एक खतरनाक दुनिया है।
2 मिनट में आपके सारे पैसे निकाले जा सकते हैं आपका पूरा क्रिप्टो करेंसी वॉलेट खाली हो सकता है। हर सिस्टम के अपने फायदे और नुकसान होते हैं बैंकिंग सिस्टम के अंदर गवर्नमेंट को कंट्रोल रहता है और इससे बैंक को कारण गवर्नमेंट को एक्सेस मनी नहीं बनानी पड़ती, साथ ही देश की इकोनामी में रफ्तार आती है यदि सभी लोग हार्ड कैश यानी या तो फिएट करेंसी या फिर सोने पर काम करने लगे तो आसपास होने वाली डेवलपमेंट में अभी लाखों साल और लगते।
जॉन ने अपनी बात आगे बढ़ाते हुए का अभी आपने कहा कि 2 मिनट में सारे पैसे निकाले जा सकते हैं क्रिप्टो करेंसी के बारे में कहा था आपने
तब एडम ने जवाब दिया तुम बिल्कुल सही कह रहे हो दरअसल किसी भी तरह की क्रिप्टोकरंसी को ब्रेक किया जा सकता है। जिसमें बिटकॉइन भी शामिल है

अब जॉन के मन में कुछ सवाल उभर रहे थे पर उसने घड़ी देखी तो ऑलरेडी 2:15 हो गए थे तभी कमरे में सिमंस ने एंटर किया सीमेंट्स उसकी साथ ही काम करता है जो कि उसके बाद वाली शिफ्ट में आता है कल से जॉन 2:00 बजे से लेकर और रात को 10:00 वाली शिफ्ट में होगा। उसने एडम को अलविदा कहा और जाते समय उसकी तरफ इशारा करते हुए बोला कि हम अपनी बात को कल कंटिन्यू करेंगे आपसे मिलकर मुझे बहुत अच्छा लगा और ऐसा कहकर वह अपनी केबिन के तरफ बढ़ गया जहां पर उसे अपना लॉग बना कर घर जाना था

जॉन जब घर पहुंचता है तो देखता है कि जाफरी अपने कुछ फ्रेंड के साथ रूम में पार्टी कर रहा है जॉन ने कहा कि कल ही रात तो हमने पार्टी की थी तो जाफरी बोला तुझे पता है ना कि आज मेरा जन्मदिन है तभी जॉन ने अपने सर पर हाथ मारते हुए का अरे हां मैं तो भूल ही गया था और फिर जॉन ने उसको हैप्पी बर्थडे विश किया तभी वहां पर और भी पुलिस वाले आ गए क्योंकि जाफरी पुलिस डिपार्टमेंट में था इसलिए सभी ज्यादातर वहां पुलिस वाले ही आए हुए थे

****तभी वहां एक चाइनीस जिसका नाम सा है उसकी एंट्री होती है उसे देखते ही जैफ्री उसके पास पहुंच जाता है और कहता है कि तेरा केस कुछ आगे बढ़ा क्या? साओ एक बिटकॉइन हैकिंग के केस में लगा हुआ था एक व्यक्ति जिसके वॉलेट में 50 बिटकॉइन पड़े थे उसे हैक कर लिया गया था। तब जॉन उससे उसे कहता है कि बिटकॉइन का वॉलेट कोई कैसे हैक कर सकता है उसको जवाब देता है ज्यादातर लोग लापरवाह होते हैं और सिक्योरिटी का ध्यान नहीं रखते जिसके कारण उनकी सिक्योरिटी आसानी से तोड़ी जा सकती है अगर आप सारे वेरिफिकेशन करते हैं और अगर आप गवर्नमेंट की सॉलिड सिक्योरिटी की गाइडलाइन फॉलो करते हैं तो आपका कोई भी बिटकॉइन या क्रिप्टो करेंसी वॉलेट हैक नहीं हो सकता लेकिन लोग ऐसा नहीं करते और जब लूट जाते हैं तब हमारे पास आते हैं

हां यह बात तो है जॉन ने बात आगे बढ़ाते हुए कहा मैं भी थोड़ा लापरवाह हूं मैंने भी सारी सिक्योरिटी फॉलो नहीं की है आज ही में सारी सॉलिड गाइडलाइन फॉलो करता हूं .

अगले दिन सुबह जॉन जब एडम के वार्ड में पहुंचा तो उसने देखा कि एडम सो रहा है वह काउंटर पर जाकर छोटे-मोटे काम निपटाने लगा। तकरीबन आधे घंटे बाद वह रूम में जाकर बैठ गया 8:00 बजे के आसपास एडम जागा उसने जॉन को देखा और मुस्कुराने लगा वॉशरूम से आने के बाद उसने जॉन से एक सवाल पूछा तुम अपने बारे में नहीं बताओगे
जॉन ने कहा मैं एक ऑर्फनेज में पला बड़ा हूं मुझे यह तो नहीं पता कि मेरे माता पिता कौन है? लेकिन हमारे फादर बहुत अच्छे इंसान हैं और मैं चाहता हूं कि उस ऑर्फनेज के बच्चों को ढेर सारी खुशियां दूँ। क्योंकि वही मेरा एक ऐसा परिवार है जहां जाकर मैं बहुत खुश महसूस करता हूं।
आदम ने पूछा तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है
नहीं मैं इतना लकी नहीं हूं हां लेकिन मेरे रूम पाटनर जाफरी की बहुत सारी गर्लफ्रेंड है। जॉन बोला

तभी जॉन ने पूछा आपने कल कहा था कि बिटकॉइन भी ब्रेक हो सकता है। ऐसा कैसे?
एडम : दरअसल बिटकॉइन एक तरह का कोड है एक टेक्नोलॉजी है और टेक्नोलॉजी में सेंध मारना बहुत आसान है। बशर्ते आपको उसकी जानकारी होनी चाहिए 2020 आते-आते लोगों को यह लगने लगा था कि बिटकॉइन को ब्रेक किया जा सकता है। क्योंकि तब तक क्वांटम कंप्यूटर अस्तित्व में आ चुके थे आज भी सरकार क्वांटम कंप्यूटर से इसको ब्रेक कर सकती है। लेकिन सारी क्रिप्टोकरंसी नहीं कुछ पुरानी जिनके अंदर उतनी सुरक्षा नहीं है। सरकार को इस से कोई मतलब नहीं है अगर यह चल रही है तो इस सरकार को भी कहीं ना कहीं फायदा रहा है।

जॉन ने पूछा लेकिन यह हो कैसे सकता है तब एडम ने कहा जैसे ह्यूमन नर्वस सिस्टम का कंप्यूटर होता है ब्रेन और शरीर के अंदर इंफॉर्मेशन ट्रांसफर करते हैं न्यूरॉन सेल। इसी तरह कंप्यूटर का ब्रेन होता है सीपीयू जहां कंप्यूटर की ओरिजिनल लैंग्वेज होती है बिट जिसके थ्रू डाटा प्रोसेस एंड ट्रांसफर होता है। अब यहीं पर मेन डिफरेंस है नॉर्मल कंप्यूटर और कॉन्टम कंप्यूटर में, जहां नॉर्मल कंप्यूटर यूज करते हैं बिट, वहीँ क्वांटम कंप्यूटर यूज करते हैं क्यूबिट यह बात तुम जानते होगे। इन दोनों में डिफरेंस क्या होता है। नॉर्मल कंप्यूटर बायनरी यूज करते हैं।

नॉर्मल कंप्यूटर जो बिट को यूज करते हैं या तो वह वन हो सकता है या जीरो। जीरो और वन दोनों एक साथ नहीं हो सकता। लेकिन क्वांटम कंप्यूटर में जीरो और वन दोनों एक साथ हो सकते हैं। चलो मैं एक एग्जांपल से समझाता हूं। माना बिट एक कॉइन सिक्के की तरह है जो या तो हेड होगा या फिर तेल होगा। लेकिन अगर मैं इसको हवा में टॉस करता हूं तो उस समय यह हेड भी है और टेल भी है। जब तक यह जमीन पर नहीं गिरता तब तक हम यह नहीं बता सकते कि यह हेड है या टेल। जहां पर कॉइन हवा में घूम रहा है उसे क्वांटम कंप्यूटर की भाषा में सुपर पोजीशन बोला जाता है जहां पर जीरो और एक एक ही समय में हो सकते हैं। इसी टेक्नोलॉजी की वजह से क्वांटम कंप्यूटर 1000 गुना ज्यादा फास्ट है। सवाल तो अभी भी है कि क्वांटम कंप्यूटर से कोड कैसे ब्रैक किया जा सकता है। कोई भी 6 अंक का पासवर्ड ब्रैक करना है। इसकी अधिकतम सम्भावना है निन्यानबे लाख निन्यानबे हज़ार नौ सौ निन्यानबे। इसे ब्रैक करने के लिए तुम्हे अपने सिस्टम में इतने ही बार पासवर्ड डालना होगा जिसमे तुम्हे शायद सालों लग जाये पर क्वांटम कंप्यूटर यह काम 1 सेकंड के लाखों हिस्से में कर सकता है।लेकिन आईटी डिपार्टमेंट वालों ने इसके लिए और स्ट्रांग इंक्रिप्शन बना दिए हैं तो हमें डरने की जरूरत नहीं है लेकिन बिटकॉइन एक पुरानी टेक्नोलॉजी है तो इससे थोड़ा रिस्क हो सकता है परंतु ऐसा कोई करेगा नहीं क्योंकि आम लोगों की पहुंच में क्वांटम कंप्यूटर आने में अभी 10 साल और बाकी है

तब जॉन ने पूछा तो मैं अपनी क्रिप्टोकरंसी को सुरक्षित समझू ?
एडम ने कहा “बिल्कुल” तभी दरवाजे पर दस्तक होती है यह दोनों दरवाजे की तरफ देखते हैं। वहां एक आदमी खड़ा होता है। जिसने काफी महंगा सूट पहना था। वह मुस्कुराते हुए अंदर आता है उसकी नजर जॉन पर पड़ती है और वह कहता है “शायद मैंने तुम्हें कहीं देखा है” फिर अचानक बोला कि “हो सकता है कि मैं तुम्हारे पिताजी से मिला हूं” यह सुनकर जॉन थोड़ा अचरज में पड़ गया। और उसने आश्चर्य से पूछा “मेरे पिताजी”
अभी वह आगे कुछ बोलने वाला था तभी एडम ने कहा “जॉन हमें थोड़ी देर के लिए अकेला छोड़ दो” एडम के चेहरे पर थोड़ी सी चिंता नजर आ रही थी जॉन चुपचाप उठकर अपने रिसेप्शन की ओर चला गया वह अपनी सीट पर जाकर बैठ गया और सोचने लगा।

यह मन ही मन बोला इस आदमी से मेरे पेरेंट्स के बारे में पता चल सकता है। जब मैं बच्चों को उनके माता-पिता के साथ देखता हूं तो मैं हमेशा यही सोचता हूं कि ऐसा दर्द ईश्वर किसी को ना दे मुझे दिया। बहुत अच्छा लगता है जब कोई मां बाप अपने बच्चे को प्यार करते हैं। तभी उसने देखा कि एक बूढ़ी औरत को उसके दो बच्चे उसको सहारा देखकर धीरे-धीरे लेकर आ रहे हैं। वह महिला मुस्कुरा कर अपने बच्चों से बात कर रही है यह दृश्य देख जॉन की आंखों में पानी आ गया। उसने खुद से कहा कि शायद यह व्यक्ति मुझे मेरे माता-पिता के बारे में कुछ बताएं। अगर वह नहीं जिंदा भी नहीं होंगे तो कम से कम उसे पता तो होगा कि वह कहां है और कौन हैं। एक बार इसे बाहर आने दो फिर तो मैं इसे इससे जानकारी जरूर लूंगा। वह काफी एक्साइटमेंट में था और इसी तरह के सुनहरे विचारों में खोया हुआ था। तभी उसने देखा कि ब्रायन कोरिडोर से नकली हंसी मुस्कुराते हुए उसकी तरफ देख कर निकल गया। जॉन उठा और उसकी तरफ जाने की कोशिश की पर ब्रायन काफी तेजी से चलता हुआ बाहर निकला और अपनी कार में बैठ कर चला गया।

जॉन वापस बेडरूम में पहुंचा जहां एडम थोड़ा बेचैन दिख रहा था। जैसे ही जान उसके पास आया पहले उसकी तरफ देखते हुए कहा “मुझे तुम्हें कुछ खास बातें बतानी है तभी जॉन ने कहा “मुझे आपकी तबीयत ठीक नहीं लग रही” एडम ने जवाब दिया “अब मैं बूढ़ा हो चला हूं जिसके कारण मुझे जल्दी टेंशन हो जाती है लेकिन मैं ठीक हूं” मुझे अपनी बात खत्म करने दो जॉन उसे सहज करने के लिए उसके पास बैठ। गया दो चार लंबी लंबी सांसे लेने के बाद एडम ने जॉन को कहा मेरा नाम एडम नहीं है बल्कि मेरा नाम विलियम वॉकर है मैं यूएस आर्मी में काम करता था

मैं एक साइंटिस्ट हूं और मैंने एक टाइम मशीन बनाई है जो एक वॉच के रूप में है। जान यह सुन कर मुस्कुरा दिया और बोला आप कहानियां भी अच्छी बना लेते हैं। अब एडम ने गंभीर स्वर में कहा मैं ऐसे डिपार्टमेंट में था जो काफी खुफिया था इसलिए जो रिकॉर्ड तुम्हारे पास है वह गवर्नमेंट की तरफ से ही बदला गया है। अब मेरी बात गौर से सुनो पहले तुम अपना हाथ आगे बढ़ाओ जॉन ने अपना हाथ आगे बढ़ाया। जैसे ही जॉन ने अपना हाथ आगे बढ़ाया एडम ने उसका हाथ पकड़ लिया। हाथ पकड़ते ही जॉन को हल्का सा झटका लगा। जैसे कोई इलेक्ट्रिक शॉक हो। उसने देखा की एडम के हाथ पर बना हुआ टैटू सरकता हुआ जॉन के हाथ पर ट्रांसफर हो गया। यह देख जॉन चौक गया और बोला हे भगवान यह कैसा जादू!

अभी जॉन कुछ और कहने वाला था तभी उसके दिमाग में उसे हल्का सा चक्कर महसूस हुआ। उसके दिमाग में चित्र दिखाई देने लगे उसे लगा जैसे उसे हैल्युसिनेसन (hallucinations) हो रहा है। थोड़ी देर के लिए सारा कमरा घूमने लगा था और उसे अजीब अजीब चित्र दिखाई दे रहे थे। जब सब कुछ शांत हुआ तो उसने देखा कि एडम उसकी तरफ देख रहा है। उसने हमसे पूछा यह क्या था यह कैसा जादू था? एडम ने कहा मैंने अपना एटॉमिक आईडेंटिफिकेशन नंबर तुम्हें ट्रांसफर किया है और जो तुम्हारे दिमाग के अंदर मेमोरी चिप जा रही हैं यह मेमोरी चिप तुम्हें मुसीबत के समय मदद करेगी। अगर तुम मुसीबत में हुए तो यह अपने आप एक्टिव हो जाएंगी और तुम्हारी मदद करेंगे यह जो 3 लाइनें तुम अपने हाथ पर देख रहे हो। इसे एटॉमिक आईडेंटिफिकेशन नंबर कहते हैं इसके अंदर बहुत सारा डाटा है।

*************

************

जॉन ने पूछा : क्या टाइम ट्रेवल सच्च है? और किसने पहले इसके बारे में कहा?
आदम ने कहाँ : एक इंग्लिश राइटर था एच जी वेल्स जिन्होंने 1895 में द टाइम मशीन नाम की किताब लिखी थी। हलाकि ये आईडिया चोरी का था ये निकोला टेस्ला से चोरी किया गया था।
जॉन ने आश्चर्य से देखा जैसे पूछ रहा हो?
1888 में निकोला टेस्ला ने एसी इंडक्शन मोटर के पेटेंट हासिल कर लिया उसके बाद फैक्ट्रीज धीरे-धीरे एसी करंट पर शिफ्ट होने लगी। उनके ओरिजिनल आइडियाज को कॉपी किया गया बाद में क्रेडिट भी छीन लिया गया उनकी इन्वेंशन को दबा दिया गया सरकार भी इस आदमी के खिलाफ थी। लेकिन इन सारी चीजों के बाद भी यह आदमी अकेला सबसे लड़ा।


निकोला टेस्ला ये खबर फिरंगी राइटर एचज वेल्स को को भी पता लग गई और बंदा निकोला टेस्ला की सारी एग्जिबिशन डेमोंस्ट्रेट और इंटरव्यूज इन्हें फॉलो करने लगा निकोला टेस्ला यानी एक असाधारण पुरुष अपने समय से बहुत आगे थे उन्होंने इतने सारे इन्वेंशन कर दिए थे जो उस समय लोगों की समझ से भी परे थे। एक बार उन्होंने जिक्र किया कि इलेक्ट्रिसिटी हवा में एक अजीब सा भवर बना सकती है।

उस समय तक इस चीज के लिए कोई शब्द नहीं था और उस समय के वैज्ञानिकों को भी ये बात समझ में नहीं आ रही थी कि ये चीज क्या है तो एचजी वेल सामने आए और उन्होंने इसे टाइम ट्रेवल से जोड़ दिया। हवा में भवर इलेक्ट्रिसिटी की मदद से तैयार किया गया था उसे एचजी वेल्स ने स्पेस टाइम पोर्टल से जोड़कर देख लिया और टाइम ट्रेवल नाम का शब्द दुनिया में आया।

1905 में फिजिक्स महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टाइन स्पेशल थ्योरी ऑफ रिलेटिविटी पूरी दुनिया के सामने रख देते हैं। अब आप ये सोच रहे होंगे कि निकोला टेस्ला, उनकी मशीन, टाइम ट्रेवल और अल्बर्ट आइंस्टाइन की स्पेशल थ्योरी ऑफ रिलेटिविटी कैसे आपस में जुड़े हुए हैं।

इलेक्ट्रिसिटी और मैग्नेटिज्म स्पेस टाइम फैब्रिक को बड़ी आसानी से बैंड कर सकता है। फिलाडेल्फिया एक्सपेरिमेंट भी निकोला टेस्ला के नोट्स को ध्यान में रखकर प्लान किया गया था। तुमने फिलाडेल्फिया एक्सपेरिमेंट के ऊपर किताबें और न्यूज़ आर्टिकल पढ़े होंगे।
जॉन ने हा में सर हिला दिया
ऐसा नहीं है की उनसे पहले लोगों ने टाइम ट्रेवल का नहीं सोचा होगा दुनिया बार के लोगों ने इस बारे में बहुत पहले सोचा और कई लोगों की कहानिया है जैसे भारतीय पौराणिक कथाओं में, विष्णु पुराण में राजा रैवत काकुदमी की कहानी का उल्लेख है, जो निर्माता ब्रह्मा से मिलने के लिए ब्रम्हलोक की यात्रा करता है और जब वह पृथ्वी पर लौटता है तो यह जानकर आश्चर्यचकित हो जाता है कि कई हज़ार साल बीत चुके हैं।
“उराशिमा तारो” एक जापानी कहानी है, यह एक ग्रन्थ मान्योशू में वर्णित है, जो उराशिमा-नो-को नामक एक युवा मछुआरे के बारे में बताती है जो समुद्र के नीचे एक महल का दौरा करता है। तीन दिनों के बाद, वह अपने गांव में घर लौटता है और खुद को 300 साल भविष्य में पाता है, जहां उसे भुला दिया गया है, उसका घर खंडहर हो चुका है, और उसका परिवार मर चुका है।
यहूदी परंपरा में, पहली शताब्दी ईसा पूर्व के विद्वान होनी हा-मागेल के बारे में कहा जाता है कि वे सो गए और सत्तर साल तक सोते रहे। जागने पर वह घर लौटा लेकिन उसे कोई भी परिचित व्यक्ति नहीं मिला, और किसी ने भी उसके इस दावे पर विश्वास नहीं किया कि वह कौन है।

तभी जॉन ने अदम को टोकते हुए कहा: एक मिनट टेस्ला तो 7 जनवरी 1943 को इस दुनिया को अलविदा कर गए थे। और फिलाडेल्फिया एक्सपेरिमेंट अक्टूबर 1943 को उनके मरने के बाद हुआ था
अदम बोला : मैंने कब कहा कि निकोला टेस्ला की गाइडेंस में हुआ था मैंने तो यह कहा कि उनके नोट्स के आधार पर हुआ था। चलो एक बात तो साफ है की तुम सुन रहे हो।
अदम ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा हलाकि टेस्ला ने समय में 40 साल आगे -पीछे बात करने वाली मशीन बना ली थी। उनके इसी नोट्स के आधार पर टाइम ट्रेवल कंफर्म हुआ। सरकार ने प्रोजेक्ट पेगासस की शुरुआत की जिसमें बच्चों का इस्तेमाल किया गया था।
प्रोजेक्ट पेगासस में 140 स्कूली बच्चों का चयन हुआ और निकोला टेस्ला के नोट्स का इस्तेमाल करके एक डिवाइस बनाया गया जिसका नाम टेस्ला था।ये हाथी के दो दांत जैसी कॉइल थी लगभग 10 फुट के डायमीटर में और जैसे ही इन दोनों खंभों में इलेक्ट्रिसिटी छोड़ी जाती थी। हवा के अंदर एक एनर्जी फील्ड का भवर पैदा होता था और फिर इन पोर्टल के थ्रू इन बच्चों को भेजा जाता था। पूरी तैयारी के बाद पूरी ट्रेनिंग के बाद के दूसरी तरफ जाकर इन्हें क्या करना है कैसे करना है और वापस कैसे आना है।
उस प्रयोग में मैं भी था मुझे उन्होंने 1965 से भविष्य में 1985 में भेजा था। मेरे ही कारण राषिया का विघटन हुआ। जब मुझे भेजा गया तब मैं 13 साल था। ये बड़ी रोचक घटना है फिर कभी बताऊंगा।
जॉन ने इंटरनेट पर सेच किया और बोला: एंड्रयू बसियागो
आदम ने कहा है ये नाम काफी पॉपुलर है उसका जन्म 1961 में हुआ था लेकिन इनके जन्म से 10 साल पहले ही यानी 1951 में इनकी एक तस्वीर राष्ट्रपति भवन में थी। 1831 में गेट्स बर्ग में लिंकन अपनी स्पीच दे रहे थे तो यह बंदा वहां पर मौजूद था। क्योंकि इस बच्चे की जो अपीयरेंस थी वो उस समय के अकॉर्डिंग बिल्कुल भी नहीं थी। तो ये अटेंशन का कारण बना हुआ था। इसकी बहुत सारी फोटो उतारी गई और लिंकन के उस भाषण की कुछ फोटोज में यह बच्चा साफ-साफ देखा जा सकता है।

1) स्केप ऑफ मंडेला, कौनसी एंड जहां का हॉस्पिटल गया
२) हॉस्पिटल में प्रोफेसर का मिलना, उससे बाते करना पहला दिन
३) शाम को बिटकॉइन गैंग के बारे में बात करना
४ )अगले दिन परफेसीर से टाइम ट्रेवल के बारे में बात करना
५) माइक का आना और जॉन को उसके परिवार के बारे में बताना और प्रोफेसर का घडी के बारे में बताना
६) कुणसी हक़ होना हॉस्पिटल में आग लगना
७ दौड़ के उस जगह पहुंचना
८) घडी का बटन दबाना
९) टाइम में पपीचे जाना
10) जाफरी के पिता से मिलना ( रोबर्ट जॉनसन )
11 ) दोस्ती करना
फोन देना, मेक को ढूँढना
गाड़ी ख़राब होना
मेक से मिलना
बिटकॉइन खरीदना
और वापिस आना
बैटरी ख़तम हो गई है
रॉबर्ट को सब बताना
जॉन का इंटरनेट पर जाना
इसे सर्च करना
एक दिन बैक तो फ्यूचर देखना
रशियन हैकर से मिलान
विलियम वॉकर का पैंट गोन में पता चलना
पेंटागन घूमने जाना
रॉबर्ट का लड़की से मिलाना
उन्हें सेक्युर्टी द्वारा पीते जना
मेरी नाम की लड़की द्वारा दोनों को बचाना
मेरी और रॉबर्ट का रोमांस
इल्लुम वॉकर का पता चलना
रात को मैसेज मिलना
सही जगह पर पहुंचने के लिए फाइट
बीच में पेंटागन वालों का भी मिलना
गुंडों और पंतगों की भिड़त
गाड़ी से दूल भरे रस्ते से जान
जहां का कुंदन
वॉकर से मिलना
मंडेला को बचाना
पास्ट की कहनी सुनाना
घडी का चार्ज होने पर
वापस लौटना
1000 बिट कॉइन का मिलना
प्रोफेशर से मिलना

न्यूट्रिनोज लाइट की स्पीड से भी तेज चलते हैं जिनके द्वारा हम टाइम ट्रेवल आसानी से हैं। टोरे मायो नाम के वैज्ञानिक ने 1930 में एक रिसर्च पेपर पब्लिश किया जिसमें उन्होंने न्यूट्रिनो का जिक्र किया है कि ये टाइम ट्रेवल कर सकते हैं। उनकी बात को किसी ने सीरियस नहीं लिया तो उन्होंने टाइम में ट्रेवल करने का निर्णय लिया और समय में कही चले गए। मेरी टाइम मशीन में भी ऐसा ही होता है न्यूट्रिनो की एक लेयर तुम्हे चरों तरफ से घेर लेती है और आप मनचाहे समय में यात्रा कर सकते हो।
जॉन ने पूछा: तो ये टाइम स्लिप क्यों होता है।
अदम बोला इसका जवाब स्टीफन हॉकिंस ने दिया है उन्होंने कहा की जैसे हर चीज में दरार होती है ऐसे ही टाइम में भी दरार होती है। यह दरार प्रकृति द्वारा भी बनाई जाती है पर हम जैसे समय यात्रियों के कारण यह दरार देर तक खुली रहती है जिसका शिकार आम लोग हो जाते है और टाइम स्लिप कर जाते हैं।
इंग्लैंड में लिवरपूल नाम की एक जगह है जहां पर ये घटना बहुत से लोगों ने इसे एक्सपीरियंस किया था। दरअसल वहां एक बहुत बड़े षडियंत्र को नाकाम करना था। हम 1996 से 1950 में गए थे एक टीम के साथ बड़ा सा इलेक्ट्रिक भवर बना था जिसके कारन पुरे सहर के कई लोगों ने टाइम ट्रैवल किया।

  • Budh ka gochar va rashifal
    बुध का मिथुन राशि में गोचर 14 जून 2024 को रात 11: 09 बजे होगा। बुध को ग्रहों का युवराज कहा जाता है। इसे अत्यंत बुद्धिमान और सुकुमार माना जाता
  • Bajrang ban kaise chalayen, बजरंग बाण कैसे चलायें
    Bajrang ban kaise chalayen, बजरंग बाण कैसे चलायें जय श्री राम दोस्तों इस वीडियो में बजरंग बाण के बारे में चर्चा करेंगे। और जानेंगे की उसे किसने लिखा और क्यों
  • Narmadeshwar shivling, नर्मदेश्वर शिवलिंग
    Narmadeshwar shivling, नर्मदेश्वर शिवलिंग हिन्दू ग्रंथों में प्राकृतिक रूप से बने शिवलिंग पूजा का बहुत महत्व है, जिन्हे स्वयंभू (स्वयंसिद्ध) शिवलिंग कहा जाता है। भगवान शिव किसी कारणवश स्वयं शिवलिंग
  • Satyanarayan, Satynarayan ki katha ke labh,
    Satyanarayan, Satynarayan ki katha ke labh, सत्य नारायण का इतिहास हिंदू धर्म में भगवान विष्णु की पूजा का विशेष महत्व बताया गया है। खासतौर पर जब आप किसी विशेष अवसर
  • 8 अप्रैल 2024 सूर्य ग्रहण,
    piousastro,Astrology,8 अप्रैल 2024,सूर्य ग्रहण,सूर्यग्रहण के दौरान क्या करना चाहिए,साल 2024 का पहला सूर्य ग्रहण कब है,surya grahan 2024,surya grahan,solar eclipse 2024,surya grahan kab hai,surya grahan 2024 date,surya grahan 2024 in
  • Karja, कर्ज चुकाने में असमर्थता के कुछ मुख्य कारण
    Karja, कर्ज चुकाने में असमर्थता के कुछ मुख्य कारण, Debt, आजकल कर्ज लेना एक आम बात हो गई है। घर , शिक्षा, विवाह या वाहन खरीदने से लेकर छोटी-छोटी जरूरतों

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *